ये खेती सबके लिए मिसाल है, आप भी जानिए कैसे ?

Spread Your News

NEWSAGENDA24, HISAR DESK

हिसार (HISAR) के रहने वाले एक दंपति ने घर की छत पर ओर्गेनिक(organic) खेती (agriculture) करके एक मिशाल प्रस्तुत की है। छत पर खेती करने से इसका सीधा ये लाभ हुआ कि पिछले एक साल से इन्हें बाहर से सब्जियां लाने की जरुरत नहीं पड़ी। छत पर किचन गार्डनिंग (kitchen gardening) खेती करने वालों में अभी तक 100 से ज्यादा लोग दंपति से निशुल्क ट्रेनिंग ले चुके है।

हिसार के सैक्टर 16-17 में रहने वाले दंपति ड़ॉ. ओमेंद्र सांगवान और उनकी पत्नी सुमित्रा ने अपनी छत पर टमाटर(tomato), नींबू, पालक, धनिया, मैथी, गोभी, ब्रोकली (broccoli),  बैगन, चेरी टमाटर, खीरे, आलू, प्याज, सहित अन्य सब्जियों की ओगेनिक खेती गमलो में ही की है। ये लोग हिसार शहर के लिए एक मिशाल बन गए है। दंपति रोजाना एक दिन में इस कार्य पर दो घंटे का समय देते है। उनकी समय से देखभाल करना, पानी खाद देना और गर्मी सर्दी के दिनों में मौसम (weather)अनुसार पौधे की रक्षा करते है और इनसे सब्जियां हासिल करते है। इनकी खास बात ये कि अपने घर की खाद रसोई में इस्तेमाल होने वाले प्रोडेक्ट से तैयार करते है।

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविविद्याल में रहने वाले डॉक्टर ओमेद्र सांगवान ने कहा कि आज के दौरान सब्जियों में स्प्रे हो रहा है, ऐसे में सोचा कि ऑर्गेनिक खेती की शुरुआत की जाए। उन्होंने कहा कि दो साल कोरोना (CORONA)की महामारी से जूझ रहे है। ऐसे में छत (ROOF) पर गमलो में ओर्गेनिक खेती कर सकते है। वे छुट्टी के दौरान घर पर काम करते है। हरियाली में काम करने से काफी खुशी मिलती है। उनकी सभी से अपील है कि छत पर गमलों में खेती करनी चाहिए। परिवार के लोग उनकी पत्नी बच्चे इस कार्य को करने में काफी सहयोग करते है।

इतने बड़े जाट नेता को कर दिया यहां से ‘गायब’! BJP का दोहरा चरित्र आया सामने

वहीं सुमित्रा ने बताया कि दिन में दो घंटे का समय इन पौधों पर लगाते है। इनकी समय पर देखभाल करके यहां से सब्जियां हासिल करते है। वे खुद ही ओर्गेनिग खाद बनाते है इसमें किसी तरह का कोई स्प्रे नहीं करते है। सैक्टर की कई महिलाए भी प्रेरित होकर अब  अपनी छत पर खेती कर रही है।

 


Spread Your News
Advertisements

One thought on “ये खेती सबके लिए मिसाल है, आप भी जानिए कैसे ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.