होम लोन (Home Loan) की EMI को कम करने का सबसे आसान तरीका, जानिए यहां

Spread Your News

आप जब घर खरीदने जा रहे होते हैं तो आपके पास एक बड़ी समस्या होती है कि होम लोन कहां से लिया जाए. मान लीजिए कि आपने होम लोन ले भी लिया तो फिर आपको डर सताता रहता है कि होम लोन पर ब्याज कितना लगेगा. आज की इस रिपोर्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कि होम लोन की EMI को किस तरीके से कम किया जा सकता है ताकि जितनी जल्दी हो सके लोन के जाल से मुक्ति मिल सके. वहीं होम लोन को जल्दी खत्म करने का एक ही आसान तरीका है वह लोन का पूर्व भुगतान यानी Pre-Payment.आमतौर पर ज्यादातर लोगों के पास पूर्व भुगतान के लिए एक मुश्त राशि नहीं जुट पाती है. ऐसी स्थिति में आपके पास क्या उपाय है? क्या आपको 20 से 25 साल तक होम लोन का भुगतान करना होगा. तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है आप सिर्फ रेग्युलर छोटे-छोटे Pre-Payment करके अपना होम लोन जल्दी निपटा सकते हैं.

हर महीने 10 फीसदी अधिक भुगतान करने पर कम हो जाएगी EMIPre-Payment को आसान तरीके से समझने के लिए इसको दो उदाहरण से समझा जा सकता है. पहले उदाहरण के तहत मान लिया जाए कि आपने 25 लाख रुपये का होम लोन लिया है और लोन की अवधि 20 साल यानी 240 महीने है और मान लेते हैं कि होम लोन के ऊपर बैंक की ब्याज दर 9 फीसदी है, तो ऐसी स्थिति में आपकी EMI 22,493 रुपये आएगी. अब मान लीजिए कि आप अपनी EMI में हर महीने 10 फीसदी अधिक भुगतान करते हैं. मतलब कि 22,493 रुपये की बजाय 22,493 रुपये और 2,249 रुपये यानी कि कुल 24,742 रुपये का भुगतान करते हैं. तो ऐसा करने पर आपका लोन 190 महीने यानी 15 साल 10 महीने में खत्म हो जाएगा और आपकी कुल EMI में से 50 EMI कम हो जाएगी. इस तरह से आपने 19 EMI अतिरिक्त देकर 50 EMI बचा लीं हैं.

वहीं अगर दूसरे उदाहरण से समझें तो 20 फीसदी अधिक भुगतान करके आप अपने लोन को और भी ज्यादा कम कर सकते हैं. 20 फीसदी अधिक भुगतान करने पर आपका होम लोन 240 महीने के बजाए 159 महीने में पूरा हो जाएगा. इस तरह से आपकी 81 EMI बच जाएगी. आप 32 EMI अधिक देकर 81 EMI बचा ले जाएंगे.

डाउन पेमेंट के लिए क्या करेंबता दें कि बैंक घर की खरीद राशि का 75 से 90 फीसदी तक लोन देते हैं. बाकी बची हुई राशि डाउन पेमेंट कहलाती है. मान लीजिए कि आप 40 लाख रुपये का घर खरीदते हैं और बैंक आपको इस घर के ऊपर 35 लाख रुपये का होम लोन मंज़ूर करता है तो बचे हुए 5 लाख रुपये का भुगतान आपको खुद करना होगा. जानकारों का कहना है कि डाउन पेमेंट के लिए परिवारजन या किसी दोस्त से कुछ समय के लिए उधार लिया जा सकता है. वहीं प्रॉविडेंट फंड के ऊपर लोन लिया जा सकता है. साथ ही अगर अन्य तरीकों से बात नहीं बने तो अपने एंप्लायर से डाउन पेमेंट के लिए कर्ज लिया जा सकता है.


Spread Your News
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.