जानें, घर के प्रवेश द्वार का मुख किस दिशा में होता है प्रभावशाली

Spread Your News

नई दिल्ली: जब भी हम अपना घर बनवाते हैं, तो उसमें अपने पूरे जीवन की कमाई को लगाते हैं। हमारी भावनाएं, हमारा समय, हमारे ख्वाब सभी उस घर से जुड़े होते हैं। इसी कारणवश घर बनवाते समय अधिकतर वास्तु का ध्यान दिया जाता है। अगर घर के वास्तु में कुछ कमियां रह जाती हैं, तो यह ना तो सिर्फ नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाता है बल्कि यह घर के सदस्यों को भी नुकसान पहुंचाता है। आज हम बात करने जा रहे हैं, घर के मुख्य द्वार की, किस दिशा में हमें अपने घर का मुख्य द्वार बनवाना चाहिए। जिससे घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश ना हो सके और घर में संपन्नता बनी रहे। क्योंकि यह बात वास्तु में मुख्य रूप से मायने रखती है कि घर का प्रवेश द्वार किस दिशा में है।

पूर्व दिशा का महत्वः
अगर आपका मुख्य द्वार पूर्व दिशा की ओर है तो यह सबसे शुभ माना जाता है। क्योंकि व्यवहारिक दृष्टि से इस दिशा में मुख्य द्वार होना यानी मुख्य दरवाजे की सबसे अच्छी दिशा मानी जाती है। इस दिशा में सूर्य उगता है इसीलिए आपके घर में सूर्य का पर्याप्त प्रकाश रहता है। वहीं यह दिशा आध्यात्मिक दृष्टि से भी बहुत ही पवित्र मानी जाती है। वास्तु के अनुसार दिशा में दरवाजा होना सबसे अच्छा माना जाता है।

पश्चिम दिशा का महत्वः
यदि आपका मुख्य दरवाजा पश्चिम दिशा की ओर है, तो यह बेहद शुभ फल देने वाला होता है। ऐसे लोगों की जिंदगी में तरक्की थोड़ा धीरे होती है, लेकिन उनकी सफलता स्थाई होती है। ऐसे लोगों को कभी खतरा नहीं होता।

उत्तर दिशा का महत्वः
वास्तव में, उत्तर दिशा को देव दिशा माना जाता है। इस दिशा में वास्तु के हिसाब से दरवाजा होना सबसे शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि अगर आपके घर का दरवाजा उत्तर दिशा में हो तो आपको लंबी यात्रा करने को मिलते है। जो कि बेहद फलदाई मानी जाती है। इस दिशा में मुख्य दरवाजा होने से आपके मन में आध्यात्मिक विचार आते हैं।

दक्षिण दिशा का महत्वः
घर का मुख्य दरवाजा दक्षिण दिशा में होना बेहद ही अशुभ माना जाता है। यह दिशा यम की दिशा मानी जाती है। इस दिशा में मुख्य द्वार बनने से घर का मालिक दुखी रहता है और उसमें रहने वाली महिलाएं भी दुखी रहती हैं। यहां तक कि ऐसे घर में रहने वाले लोगों पर मौत का साया मंडराता रहता है। इस दिशा में घर के पितरों का आगमन होता है। इसीलिए इस दिशा को अशुभ माना जाता है। घर बनवाने से पहले एक बार जरूर ध्यान रखें कि घर का मुख्य द्वार दक्षिण दिशा की ओर खुलता हो।


Spread Your News
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.