बेटियां चूल्हा-चौका तक नही रहीं सीमित, हर क्षेत्र में निभा रहीं अग्रणी भूमिका, नीलम अहलावत ने गांव मुनिमपुर में पहुंचकर महिलाओं से सहकारिता से जुड़ने का किया आह्वान

Spread Your News

NewsAgenda24, DESK

झज्जर, दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक लि0 की चेयरपर्सन एवं जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक चेयरमैन एसोशिएशन हरियाणा की प्रधान नीलम अहलावत के गांव मुनीमपुर की हरिजन चौपाल में पहुंचने पर ग्रामीण महिलाओं नें जोरदार स्वागत किया। सभी महिलाओं ने चेयपर्सन के गांव में पहुंचने पर फूल-मालाएं व सम्मान की प्रतीक पगडी पहनाकर स्वागत किया।

नीलम अहलावत नें अपने सम्बोधन में सभी महिलाओं को बताया कि महिलाएं अब ब्युटि पार्लर की दुकान, कपड़े की दुकान, परचून की दुकान, सिलाई सैंन्टर, कोचिंग सैन्टर, कम्प्यूटर सैन्टर एवं आचार, मुरब्बा व मसाले आदि के काम के साथ-साथ भैंस पालन करके अपने परिवार की आय बढ़ा सकती है। 4 से 10 महिलाएं एकत्रित होकर ज्वाइंट लाईबिलिटी ग्रुप का गठन करके अपने किसी भी व्यवसाय को आरम्भ करके आत्मनिर्भर बन सकती हैं। उन्होनें महिलाओं से यह भी आग्रह किया कि सभी अपनी बेटियों को पढाएं और उनकों कोई ऐसा हुनर सिखाएं जिससे वे आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर हो सके। यदि बेटी सक्षम होगी तो भविष्य में किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पडेगा। इसलिए महिलाएं घर के दायरे में रहकर भी अपनी आमदनी बढ़ा सकतीं है।

 

उन्होंनें कहा कि महिलाओं को सहकारिता से जोड़कर सबका जनकल्याण हो पाएगा क्योंकि महिला पूरें परिवार को सम्भालतीं हैं। महिलाओं को अपने क्षेत्र की जरुरत का ध्यान रखते भी जेएलजी का गठन करके अपना व्यवसाय शुरु करना चाहिए। उन्होनें अपने वक्तव्य में कहा कि आज की बेटियां केवल चूल्हा चौका तक ही सीमित न रहकर हर क्षेत्र में अग्रणी भुमिका निभानें का काम कर रहीं हैं

चेयरपर्सन नीलम अहलावत ने दादा सिरसा के मन्दिर में टेका माथा, समाज के प्रत्येक व्यक्ति को सहकारिता से जोड़कर बनाएंगे सुदृढ

इस अवसर पर मुख्य रुप से दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक लि0 में वाईस-चेयरमैन राजबीर देशवाल तलाव, बैंक के निदेशक अजीत सिंह अहलावत, जयकिशन सरपंच कुकडौला, प्रकाश धनखड़, जिला संयोजक, एन.जी.ओ. प्रकोष्ट, भाजपा, एस. एन. कौशिक लेखाकार, पिंकी देवी, उमेश देवी, जयवंती, कान्ता, हवासिंह, बबली, शशिबाला, लक्ष्मी, राजकुमारी, संतोष, गुड्डी, धनपती, रचना, लक्ष्मी देवी एवं कविता आदि मुख्य रुप से मौजूद रहे।


Spread Your News
Advertisements

3 thoughts on “बेटियां चूल्हा-चौका तक नही रहीं सीमित, हर क्षेत्र में निभा रहीं अग्रणी भूमिका, नीलम अहलावत ने गांव मुनिमपुर में पहुंचकर महिलाओं से सहकारिता से जुड़ने का किया आह्वान

Leave a Reply

Your email address will not be published.