सावन के तीसरे रविवार को करें ये उपाय, सूर्य देव के साथ-साथ महादेव की बरसेगी कृपा, आर्थिक तंगी भी होगी दूर

Spread Your News

आज साल 2021 के अगस्त महीने का दूसरा और सावन महीने तीसरा रविवार है। रविवार का दिन सूर्य देव को समर्पित है। भगवान सूर्य का दिन होने के कारण रविवार को भागवान सूर्य का उपासना बेहद ही पुण्यकारक माना जाता है। भगवान श्री सूर्य को हिरण्यगर्भ भी कहा जाता है।  हिरण्यगर्भ यानी जिसके गर्भ में ही सुनहरे रंग की आभा है। भगवान श्री सूर्य देव आदि कहे जाते हैं।

भगवान सूर्य की आराधना से कीर्ति, यश,सुख,समृद्धि,धन, आयु, आरोग्य,ऐश्वर्य,तेज,कांति,विद्या,सौभाग्य और वैभव की प्राप्ति होती है। भगवान सूर्य संकटों से रक्षा भी करते हैं। अगर आपका काम बनते-बनते बिगड़ जाता है तो इसके ल‍िए परेशान होने की बात नहीं है। या फिर काम बनते ही नहीं हैं तो समझ लें क‍ि आपका सूर्य कमजोर है। 

ज्योतिष शास्त्रों  की मानें तो हर ग्रह  की अपनी-अपनी खासियत है। शास्त्रों  (Shastra) में यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि कौन सा ग्रह मनुष्य को कैसा फल प्रदान कर सकता है। इसलिए हमें यह मालूम होना चाहिए कि हमें किस दिन कौन-कौन से कार्य नहीं करना चाहिए।

अगर कोई भी इन समस्‍याओं से जूझ रहा हो तो उसे अपने सूर्य ग्रह को मजबूत करने की जरूरत है। लेक‍िन इसके ल‍िए रव‍िवार को कुछ खास उपाय करने की जरूरत है। सुबह उठते ही स्नान करना है तो सूर्य (Surya) दर्शन करके स्नान करें।

दरअसल हर व्यक्ति सुख-सुविधाओं से भरा जीवन जीना चाहता है। अपने जरुरतों और ख्वाहिशों को पूरा करने के लिए इंसान दिन-रात मेहनत भी करता है। हालांकि कई बार व्यक्ति को उसके कर्म के अनुरुप फल की प्राप्ति नहीं होती है। ऐसे में शास्त्रों में धन और तरक्की से जुड़े शास्त्रों में कुछ उपाय और टोटके बताए गए हैं। मान्यता है कि रविवार के दिन कुछ उपायों और टोटकों को करने से धन के साथ तरक्की मिलने के योग बनते हैं।


Spread Your News
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.