नारी शक्ति जिंदाबाद के नारे से गुंजाएमान हुआ बाघपुर का छोटूराम सामुदायिक केन्द्र, महिलाएं समाज की मूल ताकत होती है अब बैंकिंग से जुड़कर बनेंगीं आत्मनिर्भर – नीलम अहलावत

Spread Your News

NewsAgenda24, NEWS DESK

बेरी, जगदीप राज्याण। दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक लि. की चेयरपर्सन एवं जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक चेयरमैन एसोशिएशन हरियाणा की प्रधान नीलम अहलावत ने बेरी विधानसभा के गांव बाघपुर की छोटूराम सामुदायिक केन्द्र में जाकर महिलाओं में सहकारिता के प्रति जागरुकता अभियान चलाया। गांव बाघपुर में पहुंचने पर ग्रामीण महिलाओं द्वारा नीलम अहलावत का पुष्प-माला एवं हरियाणा के सम्मान का प्रतीक पगड़ी बांधकर व तिलक लगाकर सत्कार किया।

नीलम अहलावत नें अपने उद्बोधन में कहा कि महिलाएं समाज की मूल ताकत होतीं हैं जिनकों बैंकिंग के डिजिटलाईजेशन से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाने का काम दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक करेगा। उन्होंनें कहा कि नारी अपने बजूद को भूलकर घर को सुदर बनाने का काम बड़ी बखूबी के साथ करतीं हैं। किसी भी समाज एवं देश यहां तक कि व्यक्ति विकास में भी महिलाओं की अहम भुमिका एवं सहयोग होता है। व्यक्ति की उत्पत्ति भी बिना महिला के असम्भव है। सहयोग, सहकर्म एवं सह अस्तित्व का प्रथम पाठशाला परिवार है। परिवार का मेरुदण्ड महिलाएं हैं जो सहकारिता पर टिकी हुई हैं। अतः महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए नाबार्ड के सौजन्य से दी झज्जर केन्दीय सहकारी बैंक लि0 द्वारा जो जे.एल.जी. ग्रुप गांव गांव में संरचना का काम किया जाएगा जिसका लाभ उठाकर महिलाएं स्वयं का कार्य आरम्भ आत्मनिर्भर बन सकतीं हैं।

बेटियां चूल्हा-चौका तक नही रहीं सीमित, हर क्षेत्र में निभा रहीं अग्रणी भूमिका, नीलम अहलावत ने गांव मुनिमपुर में पहुंचकर महिलाओं से सहकारिता से जुड़ने का किया आह्वान

उसमें ग्रामीण महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा भुमिका निभानी चाहिए क्योंकि आज के युग में महिलाओं का आत्मनिर्भर बनना बहुत ही जरुरी है जिसमें केन्द्र व प्रदेश सरकार कतई पीछे नहीं हट रही है हमें जरुरत है तो मात्र और मात्र एक दूसरे में जागरुकता फैलाने की। उन्होनें यह भी कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत हरियाणा सरकार द्वारा चलाई गई ओ0टी0एस0 स्कीम का लाभ अनेक लोगों ने उठाया है और जो अतिदेय ऋणी बच गए है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अतिदेय एकमुश्त योजना का लाभ अवश्य उठाएं क्योंकिं केवल 6 प्रतिशत की दर चुका कर अतिदेय ऋ़णि ऋण मुक्त हो सकता है।

 

इस अवसर पर मुख्य रुप से श्रृद्धानन्द नम्बरदार, भूप सिंह, जयपाल, लेखाकार एस.एन. कौशिक, रायसिंह, रणधीर, सतीश, जोगिन्द्र सिंह, लक्ष्मीनारायण, गजे सिंह, केलाराम, रणधीर, राजसिंह,, रामे, जयभगवान, सोनू, ईश्वर सिंह, हरदीप वेदप्रकाश, सुरेन्द्र, आकाश, जयपाल, कर्मवीर, आजाद, अनीता देवी, कमला, संजीता, बसंती, सुलोचना, गीता, वेदों, राजकुमारी, सविना, राजबाला, रवीता, प्रमिला, सुनिता एवं ममता आदि उपस्थित रहें


Spread Your News
Advertisements

One thought on “नारी शक्ति जिंदाबाद के नारे से गुंजाएमान हुआ बाघपुर का छोटूराम सामुदायिक केन्द्र, महिलाएं समाज की मूल ताकत होती है अब बैंकिंग से जुड़कर बनेंगीं आत्मनिर्भर – नीलम अहलावत

Leave a Reply

Your email address will not be published.